यह भोजन अस्थमा में आपको आराम पहुँचा सकते हैं

Diet for asthma - Healthians

लेखिका – प्रेक्षा बुट्टन

क्या आप जानते है की दुनिया में 10 में से एक अस्थमा से पीड़ित व्यक्ति भारतीय है? दुर्भाग्य से, अस्थमा का कोई इलाज नहीं है लेकिन उपचार के तरीकों में विकास होने के कारण रोगियों की स्थिति को नियंत्रण में रखने में मदद मिली है। उपचार के साथ साथ अगर आप पौष्टिक भोजन भी खाएं तो यह भी आपको स्वस्थ रहने में मदद कर सकता है। इसलिए आज हम ऐसे 12 भोजन की बात करेंगें जो आपको अस्थमा में आराम पहुँचा सकते है। 

 

भोजन किस तरह सांस लेने की प्रक्रिया को प्रभावित करता है?

आप यह तो ज़रूर जानते होंगे कि हमारे शरीर को अपने सभी कार्यों के लिए ऑक्सीजन की ज़रूरत होती है। हम जो भोजन खाते है उसे पचाने के लिए भी शरीर ऑक्सीजन का इस्तेमाल करता है। अलग अलग प्रकार के भोजन को पचाने के लिए हमारे शरीर को ऑक्सीजन की अलग अलग मात्रा की ज़रूरत होती है। जिस खाने में फैट की अधिक मात्रा होती है उसके लिए शरीर को अधिक ऑक्सीजन की ज़रूरत होती है और जिस भोजन में कार्ब्स की अधिक मात्रा होती है उसके लिए शरीर फैट वाले भोजन की तुलना में कम ऑक्सीजन का इस्तेमाल करता है। इसलिए जो लोग अस्थमा से जूझ रहें है उनके लिए बैलेंस्ड डाइट बनाए रखना ज़रूरी है। बैलेंस्ड डाइट से वज़न भी कम होगा जो अस्थमा के अटैक को कम करने में मददगार होता है।

 

अस्थमा के अटैक कम करने के लिए स्वस्थ भोजन 

 

Ginger for asthma - Healthians

अदरक 

आप कई कारणों से अदरक का उपयोग कर रहे होंगे। इसके इस्तमाल को जारी रखें क्यूंकि इसके तत्व वायुमार्ग खोल सकते है जो अस्थमा के रोगियों को आराम पहुँचाने में मदद सकता है। 

सेब 

सेब सभी के पसंदीदा होते है। अस्थमा के मरीज़ो के लिए सेब इसलिए फाएदेमंद हो सकते है क्यूंकि उनमें वायुमार्ग खोलने वाले तत्व होते है। इसलिए एक हफ्ते में कम से कम 3 से 5 सेब ज़रूर खाएँ। 

अवोकेडो 

एवोकाडो में ग्लूटाथिओन नामक एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह टिशु को होने वाले किसी भी नुकसान से बचाता है और फेफड़ों को भी सुरक्षित रखने में मदद कर सकते है। इसलिए अवोकेडो को अपने भोजन में ज़रूर जोडें। 

केले 

केले में पोटेशियम और एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो फेफड़ों को स्वस्थ बनाए रखने में मददगार हो सकते है। जिन बच्चों को घरघराहट होती है, उन्हें इससे फायदा हो सकता है।

बेर्री 

बेर्री में पर्याप्त मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो इनफ्लेम्मेशन को कम करने में मददगार साबित हो सकते है।  इसलिए अपने भोजन में अलग अलग प्रकार की बेर्री जोड़ें। 

अनार 

अनार में एंटीऑक्सिडेंट की अच्छी मात्रा होती है जो फेफड़ो के स्वास्थ को बनाए रखने में मदद कर सकते है। 

 

Pomegranate for asthma - Healthiana

गाजर 

गाजर में बीटा-कैरोटीन नामक एक एंटीऑक्सिडेंट होता है जो शरीर द्वारा विटामिन ए में परिवर्तित हो जाता है। इससे एक्सरसाइज की वजह से होने वाले अस्थमा की सम्भावना कम होती है। इसके अलावा विटामिन ए आपकी आंखों और प्रतिरक्षा प्रणाली के स्वास्थ के लिए भी फाएदेमंद होता है। 

कॉफ़ी 

कैफीन शरीर के वायुमार्ग खोलने में मदद कर सकता है जो अस्थमा के रोगियों के लिए फाएदेमंद है। लेकिन ध्यान दें की कैफीन ज़रूरत से ज़्यादा न लें। 

अलसी के बीज 

अलसी के बीजों में मैग्नीशियम और ओमेगा 3 फैटी एसिड होते हैं। मैग्नीशियम मांसपेशियों को आराम देता है और वायुमार्ग को खोलता है। और ओमेगा 3 फैटी एसिड से भी अस्थमा से पीड़ित लोगों को आराम मिल सकता है। इसलिए अलसी के बीज ज़रूर खाएं। 

पालक 

पालक के स्वास्थ्य लाभ पहले से ही से लोकप्रिय हैं। अन्य सभी पोषक तत्वों के बीच, उनके पास फोलेट नामक एक तत्व होता है जो अस्थमा से जूझ रहे लोगो के लिए बेहद फायदेमंद होता है।

टमाटर 

टमाटर एंटीऑक्सिडेंट में भरपूर होता है और इसमें विटामिन सी की भी उच्च मात्रा होती है जो अस्थमा के रोगियों के लिए अच्छा है। टमाटर का रस वायुमार्ग को खोलने में मदद कर सकता है। चूंकि इसमें कैलोरीज़ कम होती है तो अधिक से अधिक मात्रा में अपने भोजन में जोड़ सकते है। 

हल्दी 

हल्दी का महत्वपूर्ण तत्व कर्क्यूमिन है जो फेफड़ो के स्वास्थ को सुधारने में मदद कर सकता है। इसलिए अस्थमा के रोगियों को हल्दी से फाएदा हो सकता है। हल्दी के बारे में पूरी जानकारी आपको यहाँ से मिल सकती है।  

हालाँकि ताज़े फल और सब्ज़ियां हमारे स्वास्थ्य के लिए हमेशा फाएदेमंद होतीं हैं लेकिन फिर भी अपनी डाइट में कोई बड़ा बदलाव लाने से पहले अपनी स्वास्थ्य जांच ज़रूर करवाएँ। यह इसलिए ज़रूरी है क्यूंकि हो सकता है आपको कोई एलर्जी हो जिसके बारे में आपको पता न हो। तो अपनी स्वास्थ्य जांच या एलर्जी टेस्ट करवा कर सुनिश्चित कर ले की आपको कोई खतरा न हो

This post has already been read 842 times!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *