क्या है कोरोनावायरस? जाने इसके लक्षण और बचाव के तरीके

क्या है कोरोनावायरस - Healthians

लेखिका – प्रेक्षा बुट्टन 

आप जानते ही होंगे कि चीन इस समय कोरोनावायरस की चपेट में है। 28 जनवरी 2020 तक 106 लोग इस वायरस की वजह से अपनी जान गवा चुके है और 4515 लोग इससे जूझ रहे है। USA, सिंगापुर, ऑस्ट्रेलिया और नेपाल जैसे देशों में भी कोरोनावायरस के 47 मामले सामने आ चुके है। 

भारत में कोरोनावायरस के किसी मामले की पुष्टि नहीं हुई है। लेकिन 100 से अधिक लोगों को, खासतौर पर चीन से आने वाले मेडिकल के छात्रों को, निगरानी में रखा गया है। इसके अलावा तीन लोगों को RML हॉस्पिटल के आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है क्योंकि उन लोगों में कोरोनावायरस के लक्षण देखें गए थे। अगर आप कोरोनावायरस की चपेट में आने से बचना चाहते है तो इसके बारे में सही जानकारी होना आपके लिए ज़रूरी है। 

 

कोरोनावायरस कैसे फैलता है - Healthians

कोरोनावायरस क्या है?

डब्ल्यूएचओ के अनुसार कोरोनावायरस एक ऐसे वायरस के परिवार का हिस्सा है जो सामान्य खांसी-ज़ुखाम जैसे लक्षणों को पैदा करता है। यह वायरस मिडल ईस्ट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम (MERS-CoV) और सीवियर एक्यूट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम (SARS-CoV) जैसी बड़ी बिमारियों का कारण बन सकता है। इन बीमारियों के मामले पहले भी कई बार देखे गए है। लेकिन हाल में चीन नॉवल कोरोनावायरस (2019-nCoV) से जूझ रहा है। यह वायरस इससे पहले कभी नहीं देखा गया था। 

 

कोरोनावायरस कैसे फैलता है?

कोरोनावायरस खांसने या छींकने या संक्रमित व्यक्ति के साथ किसी भी तरह के शारीरिक संपर्क से फ़ैल सकता है। बूढ़े-बुज़ुर्गों को और कमज़ोर प्रतिरक्षा प्रणाली (weak immune system) वाले लोगों के कोरोनावायरस का अधिक खतरा हो सकता है। 

 

कोरोनावायरस के लक्षण

कोरोनावायरस के लक्षण अन्य ऊपरी श्वसन संक्रमण (upper respiratory infections) के समान हैं।

  • नाक बहना 
  • सरदर्द 
  • खांसी 
  • गले में खराश 
  • बुखार 
  • सांस लेने में मुश्किल 
  • अस्वस्थ महसूस करना 

गंभीर मामलों में कोरोनावायरस निमोनिया, गंभीर एक्यूट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम और लिवर फेलियर का कारण बन सकता है, जिनसे मृत्यु हो सकती है।

 

कोरोनावायरस से बचाव - Healthians

कोरोनावायरस से बचाव 

कोरोनावायरस का कोई टीका नहीं है। संक्रमित व्यक्ति लक्षणों की शुरुवात होने से पहले से यह वायरस अन्य लोगों में फैला सकता है। कोरोनावायरस से बचने के तरीके सामन्य सर्दी-ज़ुखाम से बचने के तरीको जैसे ही है। 

  • अपने हाथों को कम से कम 20 सेकंड तक साबुन से धोएँ
  • बार-बार अल्कोहल बेस्ड हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें
  • गंदे हाथों से अपनी आंखों, नाक और मुंह को न छुएं
  • जो लोग बीमार हैं उनसे दूर रहें 
  • अगर आप अस्वस्थ महसूस कर रहे है तो घर पर रह कर आराम करें 
  • छींकते और खासते समय टिशू का इस्तेमाल करें 
  • ऐसी चीज़े जो कई लोग इस्तेमाल करते है या छूते है उन्हें अच्छे से साफ़ करें 
  • अंडे और मांस को अच्छी तरह से पकाएं

 

यात्रियों के लिए कोरोनावायरस से बचने के तरीके 

  • चीन की यात्रा से बचें
  • अपने डॉक्टर के साथ अपनी यात्रा की योजना पर चर्चा करें
  • बीमार यात्रियों के संपर्क से बचें
  • जानवरों के साथ संपर्क से बचें 
  • अपने हाथों को नियमित रूप से धोएं
  • अधपके या बिना पके मांस को न खाएं 

 

यदि आप हाल ही में चीन गए थे –

  • अपनी यात्रा के बारे में अपने डॉक्टर को सूचित करें
  • अपना स्वास्थ्य परीक्षण करवाएं 
  • अगर आप अस्वस्थ महसूस कर रहे है या कोरोनावायरस के लक्षण महसूस कर रहे है तो तुरंत अस्पताल जाएं 
  • जब तक आप सुरक्षित नहीं हैं, यात्रा करने से बचें और अन्य लोगो से दूर रहे 
  • व्यक्तिगत स्वच्छता बनाए रखें

(इस आर्टिकल को इंग्लिश में पढ़े)

 

रखें अपनी सेहत का ख़्याल
 

This post has already been read 657 times!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *