बारिश के मौसम में रखें अपने खान-पान का ख्याल

बारिश के मौआसँ में रहें सेहतमंद

लेखिका- डॉ धृति वत्स

बारिश की बूंदे सिर्फ इस तपती धरती को नहीं बल्कि हम सभी के मन को भी खुशियों और रहत के एहसास से भर देती हैं। बारिश की सौंधी खुशबू , ठंडी हवा, चटपटे पकवान, गरमा गर्म चाय, कागज़ की कश्तियों से किसे प्यार नहीं है? पर बारिश का मौसम अपने साथ सिर्फ खुशियां लेकर नहीं आता हैं। बारिश और बीमारियां का बहुत पुराना नाता हैं। डेंगू , सर्दी, इन्फेक्शन्स, पेट की परेशानियां बारिश के मौसम में आम बात हैं। खास तौर पे बच्चों और बुजुर्ग़ों का बारिश के मौसम में बीमार पड़ने का खतरा बढ़ जाता हैं।  

बारिश के मौसम में बहुत ज़रूरी हैं की हम अपने सेहत का ख्याल रखेें और बिमारियों से बचें। हमें सेहतमंद रखने में हमारे भोजन का बड़ा योगदान हैं। बारिश के मौसम में भी सही प्रकार का भोजन खाने से और कुछ खाने के चीज़ों का परहेज़ करने से हम अपनी सेहत की रक्षा कर सकते हैं। नीचे कुछ ऐसे ही सलाह दी गयी हैं जिनका पालन करने से हम बारिश के मौसम में सेहतमंद रह सकते हैं और इस रंग भरे मौसम का लुत्फ़ उठा सकते हैं।

 

बारिश के मौसम के लिए कुछ ज़रूरी सलाह – ज़रूर अपनाये
————————————————————————————

बारिश के मौसम में कुछ छोटी चीज़ों का ख्याल रखने से आप अपनी  सेहत को बेहतर रख सकतें हैं। नीचे दिए गए कुछ ऐसे ही ज़रूरी नुस्खे हैं जिन्हे ज़रूर अपनाना चाहिए।

बारिश में उबला हुआ पानी पीएं – पानी आसानी से दूषित हो जाता है। पानी को उबालने से बैक्टीरिया और वायरस मर जाते है जोकि पाचन तंत्र में अलग-अलग संक्रमण का कारण बन सकते है। जहां भी संभव हो अपने पीने के पानी लेकर जाये। याद रखें, उबले हुए पानी का 24 घंटे के भीतर उपयोग करें।  

शरीर को हाइड्रेटेड रखें – पूरे दिन 8-10 गिलास पानी पीना ज़रूरी होता हैं। बारिश के मौसम में पसीना और चिपचिपाहट आम बात हैं। अक्सर इस मौसम में शरीर से अधिक पानी खो जाता हैं जिसकी वजह से हम डिहाइड्रेशन और कमज़ोरी की परेशानियों का शिकार हो सकते हैं। यह अत्यंत ज़रूरी हैं की  दिन भर में 3-4 लीटर पानी पिए। पानी की बोतल को आप अपना साथी बना ले और जहाँ भी जाये उसे साथ लेकर जाये।

अपने दैनिक आहार में हरी सब्जी शामिल करें – करेला, लौकी, घिया, तोहरी या टिंडा जैसी सब्जियां पचाने में आसान होती हैं। बारिश के दौरान हरी पत्तेदार सब्जियां में अक्सर कीड़े हो जातें हैं जो सिर्फ धोने से नहीं जाते हैं। इसलिए यह बहुत आवश्यक हैं की सब्ज़ी को अच्छी तरह से पकाया जाये।

कच्चे सब्जियों की बजाय ताजा पके हुए भोजन खाये – सलाद सेहत के लिए बहुत लाभकारी होता हैं पर बारिश के मौसम में यह हानि पहुंचा सकता है।  ज़रूरी हैं कि सही सब्ज़ियों का चयन हो । सभी सब्ज़ियों को ध्यान से साफ़ पानी में धोयें। बाहर भोजन करते समय सलाद से बचें।

अपने आहार में बादाम शामिल करें – बादाम की न्यूट्रिशनल वैल्यू बहुत अधिक होती हैं जोकि हमारे इम्युनिटी को बढ़ती हैं और बिमारियों और इन्फेक्शन्स से लड़ने में मदद करती हैं।

दही रोज़ खाएं – याद से दही को अपने रोज़ के भोजन का भाग बना ले। दही में लैक्टोबैसिलस होता हैं जो आंत को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं और पेट की परेशानियों से बचाते हैं।

गेहूं, जौ, मटर और ओट्स बारिश के मौसम के दौरान पेट का सबसे अच्छा दोस्त होता हैं और बहुत पौष्टिक भी हैं।

लहसुन इम्युनिटी बढ़ाता हैं – अपने सरे भोजन में मेहसुन डालने की कोशिश करे क्यूंकि वो स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी होती हैं। सूप, सब्ज़ियों में लहसुन न ही सिर्फ स्वाद बढ़ाता हैं बल्कि आपके सेहत की भी रक्षा करता हैं।

सफाई का रखें ख़याल – भोजन खाने से पहले और बाद अपने हाथ ज़रूर धोएं। आस पास सफाई रखें। मछर और मक्खियों को पन्पने न दें।
गर्म चाय, कॉफी या नींबू चाय का एक गर्म कप बारिश के मौसम के आनंद को और बड़ा देता है।

 

बारिश के मौसम में करें परहेज़ – क्या न खायें
————————————————————————————–

बारिश में कुछ चीज़ों से बचें-

मौसम में सब्ज़ियां जल्दी ख़राब हो जाती हैं – अतः ताज़ा बना खाना ही खाएं। फ्रिज में अधिक समय तक खाना न रखें और बाज़ार  में खरीदने की वक़्त ख़ास ख़याल रखें। कीड़े और फंगस की जांच करके ही सब्ज़ियाँ खरीदें।

बहार का पानी पीना बिलकुल बंद कर दे –  बारिश के मौसम में पानी का दूषित होना आम बात हैं। पानी से अनेक बीमारियां फैलती हैं  इसलिए साफ़ पानी पीना बहुत ज़रूरी हैं। कहीं से भी पानी न पीएं। यदि बहार जाते समय आप अपने साथ घर से पानी नहीं ले जा सकें हैं तो पैक्ड पानी का बोतल खरीदें लेकिन कभी भी खुले पानी को न पीएं।

तला हुआ और भारी भोजन करने से बचे – मॉनसून में हम सभी को पकोड़े और तले हुए भोजन करने का मन करता हैं। तला हुआ भोजन करने से पेट में भारीपन महसूस होता हैं और पाचन क्रिया की गति भी कम हो जाती हैं। इसलिए ताले भोजन से परहेज़ करें। 

यदि आप मांसाहारी हैं तो बारिश के समय मछली और समुद्री भोजन से बचें। इस बारिश में खाने के लिए मटन या चिकन चुनें।

सड़क के किनारे बिकने वाले भोजन से बचें – यहां तक ​​कि रेस्तरां में भोजन दूषित हो सकता है। बाहर का खाना बारिश के दौरान जोखिम भरा हो सकता है।  चाटवाला की चाट तो मज़ेदार होती हैं पर उसने द्वारा उपयोग किया जाने वाला पानी और बर्फ गंभीर पाचन समस्याओं का कारण बन सकता है। पाचन समस्याएं होने पर डॉक्टर की सलाह ले।

कोल्ड ड्रिंक्स को कहें ना – क्योंकि यह हमारे पेट में एंजाइम गतिविधि को कम करता हैं। सॉफ्ट ड्रिंक्स की जगह नींबू पानी या जूस पिए।

कॉफी और चाय के अत्यधिक सेवन से बचें क्योंकि वे शरीर को डीहाइड्रेट करता हैं। 

बारिश के मौसम में आम और तरबूज के बहुत ज़्यादा सेवन न करे – अधिक मात्रा में यह फल हमारे पेट के लिए नुक्सानदयाक को सकते हैं। ज़्यादा आम खाने से पेट गरम होता हैं और पाचन क्रिया पर असर करता हैं। इसलिए इन स्वाद भरे फलों को ध्यान से खाये।

सब्जियां खरीदने से पहले ध्यान दे की वह ताज़ा हैं – बारिश के मौसम में सब्ज़ियां जल्दी ख़राब हो जाती हैं। विक्रेता अक्सर बासी सब्ज़ी बेच देते हैं इसलिए ध्यान रखना बहुत ज़रूरी हैं। थोक में सब्जियां मत ख़रीदें । ताजा सब्जियां खरीदें और समय पर उपयोग करें । 

बारिश में अनाज को थोक में जामा न करे – इसमें कीड़े लग सकते हैं।  

 

इस बारिश के मौसम में ऊपर दिए गए नुस्खों को अपनायें और स्वस्थ्य सेहत का मज़ा लें। 

करवाएं अपनी सेहत की जांच
 

This post has already been read 225 times!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *