जानवरों के काटने पर कैसे इलाज करें

Treat animal bite - Healthians

लेखिका – प्रेक्षा बुट्टन 

हम सभी को हर समय किसी भी जानवर द्वारा काटे जाने का खतरा रहता है। ऐसा ज़रूरी नहीं कि आपको सिर्फ जंगली जानवरों से बचकर रहने की ज़रूरत है। आपको आपके पालतू जानवर से भी उतना ही खतरा हो सकता है जितना की किसी जंगली जानवर से। जानवरों के काटने से आपकी सेहत को किस हद तक खतरा हो सकता है यह जानवर की सेहत, आपकी खुद की सेहत और उचित उपचार की उपलब्धता पर निर्भर करता है।

ऐसे कुछ जानवर है जिनसे हमारा आमना-सामना हर रोज़ होता है। अगर वह आपको काट लेंं तो आप क्या करेंगें? क्या आप जानते है कि जानवरों के काटने पर क्या फर्स्ट-ऐड दिया जाना चाहिए? आइए, आज हम इसी पर चर्चा करेंगें। 

 

Dog bite - Healthians

कुत्ते का काटना

कुत्ते हर किसी को पसंद है और हो भी क्यों न? आखिरकार वह इतने प्यारे जो होते है। लेकिन यह प्यारे कुत्ते भी आप पर हमला कर सकते है। डब्ल्यू. एच. ओ. के मुताबिक भारत में हर साल 1.75 मिलियन कुत्ते के काटने के मामले सामने आते है। चूँकि बच्चों को कुत्ते के काटने का खतरा अधिक होता है, इसलिए आपको ऐसी स्तिथि के लिए तैयार रहने की ज़रूरत है। 

  • गर्म पानी और साबुन से घाव को धोएं।
  • घाव को हलके हाथ से दबाएँ ताकि उसमें से खून निकल सके। यह घाव में से कीटाणुओं को बहार निकालने में मदद करेगा। यदि पहले से ही खून बह रहा है तो घाव को साफ़ कपड़े से ढकें। 
  • घाव पर एंटीबैक्टीरियल दवा लगाएँ। 
  • पट्टी से घाव को ढक लें। 
  • इन्फेक्शन के संकेतों पर ध्यान दें। 

अगर दर्द कम न हो, कुत्ते के टीकाकरण के बारे में न पता हो, कुत्ते का बर्ताव अनियमित हो, घाव गहरा हो या घाव में से खून बहना न रुके तो डॉक्टर के पास ज़रूर जाएँ। 

 

Cat bite - Healthians

बिल्ली का काटना 

आपको खेल-खेल में भी बिल्ली के नोकीले दांत या नाखून चोट पहुँचा सकते है। और क्योंकि वे लंबे होते हैं वे आपकी त्वचा में गहराई तक चले जाते हैं और वहाँ कीटाणुओं को छोड़ देते हैं। हो सकता है कि त्वचा की ऊपरी परत जल्द ही ठीक हो जाए लेकिन सही इलाज न मिलने के कारण इन्फेक्शन का खतरा हो सकता है। 

  • बहते पानी के नीचे घाव को तुरंत धोएं।
  • डिसइंफेक्टेंट से घाव को साफ़ करें। 
  • अगर खून बह रहा है तो साफ़ कपड़े से घाव पर हल्का दबाव डालें। 
  • घाव पर पट्टी बाँध लें। 

घाव को इन्फेक्शन से बचाने के लिए डॉक्टर से घाव की जांच ज़रूर करवाएँ। कभी-कभी घाव गहरा होने पर उस पर टाँके लगाने की ज़रूरत पड़ सकती है और यह हमेशा डॉक्टर द्वारा ही किया जाना चाहिए। 

 

Monkey bite - Healthians

बंदर का काटना 

शहर में बंदरों का मिलना आम नहीं है लेकिन अगर आप किसी पहाड़ो वाली जगह पर जायेंगें तो आपको बहुत बन्दर मिलेंगें। वह आपके हाथों से खाना, फ़ोन या कैमरा छीन सकते है और अगर आपने लड़ने की कोशिश करी तो वह आप पर हमला भी कर सकते है। ऐसी स्तिथि में आप वही फर्स्ट ऐड देंगे जो कुत्ते या बिल्ली के काटने पर दिया जाता है। लेकिन कुत्ते और बिल्ली का आमतौर पर टीकाकरण कराया जाता है। परंतु बंदरो के साथ ऐसा कुछ नहीं होता है। इसलिए बन्दर द्वारा काटे जाने पर डॉटर के पास ज़रूर जाएँ और सभी ज़रूरी जांच करवाएँ। 

 

चमकादड़ का काटना 

चमकादड़ अपने साथ बीमारियाँ ले कर घुमते है। वह रैबीज़ से संक्रमित होते है। इसलिए उसने काटे जाने पर तुरंत डॉक्टर के पास जाएँ। जहाँ तक फर्स्ट ऐड की बात है, तो वह कुत्ते, बिल्ली या बन्दर के काटे जाने के सम्मान ही रहेगा। 

 

Snake bite - Healthians

साँप का दंश

अधिकांश सांप खतरनाक नहीं होते लेकिन अगर आपको किसी ज़हरीले सांप ने काटा है तो उसके यह लक्षण होंगे – काटने की जगह का रंग बदलना, सूजन, दर्द और बेहोशी। घाव को चूस कर कभी भी ज़हर निकालने की कोशिश न करें। 

  • सबसे पहले सांप के हमला करने के स्थान से दूर जाए और मदद बुलाए। 
  • जबतक मदद आपतक पहुँचती, तब तक इस बात का ध्यान रखें की घाव आपके दिल के स्तर से नीचे हो। 
  • शांत और स्थिर रहे ताकि ज़हर आपके शरीर में न फैले। 
  • घाव को साबुन और गर्म पानी से धोए और उस पर ढीली पट्टी बाँध लें। 
  • मदद का इंतज़ार करें और यह याद करने की कोशिश करें की सांप की तरह का दीखता था। इस जानकारी से डॉक्टर को जल्द से जल्द सही इलाज करने में मदद मिलेगी। 

 

डायबिटीज और दिल की बीमारी जैसे रोगों के कारण घाव को भरने में समय लग सकता है। अपने डॉक्टर को ऐसी किसी बिमारी के बारे में सटीक जानकारी दें।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *